Breaking

कोई प्रतिज्ञा ऐसी नहीं है जिसको परमेश्वर पूरी न कर सके | There is No Promise That God Cannot Fulfill


बाइबल में परमेश्वर की पूरी करने की प्रतिज्ञाएँ

कोई प्रतिज्ञा ऐसी नहीं है जिसको परमेश्वर पूरी न कर सके | There is No Promise That God Cannot Fulfill

बाइबल में हमें यह विश्वास दिलाया जाता है कि परमेश्वर की कोई भी प्रतिज्ञा ऐसी नहीं है जिसे वह पूरा न कर सके। परमेश्वर अपने वचनों और वादों को पूरा करने में सच्चा और सक्षम है। यहाँ कुछ प्रमुख प्रतिज्ञाएँ दी गई हैं जो परमेश्वर ने की और उन्हें पूरा किया।

1. उद्धारकर्ता भेजने की प्रतिज्ञा

परमेश्वर ने प्रतिज्ञा की थी कि वह एक उद्धारकर्ता भेजेगा जो मानव जाति को पाप से मुक्त करेगा। यह प्रतिज्ञा यीशु मसीह के रूप में पूरी हुई, जिन्होंने अपनी मृत्यु और पुनरुत्थान के माध्यम से हमें उद्धार प्रदान किया।


2. इस्राएलियों को मिश्र एवं बाबुल की बन्धुवाई से छुटकारा देने की प्रतिज्ञा

परमेश्वर ने इस्राएलियों को मिश्र की बन्धुवाई से छुटकारा दिलाने का वादा किया था, और यह वादा मूसा के नेतृत्व में पूरा हुआ। इसके अलावा, परमेश्वर ने इस्राएलियों को बाबुल की बन्धुवाई से भी मुक्त करने की प्रतिज्ञा की थी, जो आखिरकार पूरी हुई जब इस्राएली अपने देश लौटे।

3. इब्राहीम के वंश को बढ़ाने की प्रतिज्ञा (उत्पत्ति 12:3)

परमेश्वर ने इब्राहीम से वादा किया था कि उसका वंश बहुत बड़ा होगा और वह अनेक जातियों का पिता बनेगा। यह वादा इब्राहीम के पुत्र इसहाक और याकूब के माध्यम से पूरा हुआ, जिनके वंशज आज पूरे विश्व में फैले हुए हैं।


4. अगुवाई करने की प्रतिज्ञा

परमेश्वर ने अपने लोगों को वादा किया था कि वह उन्हें मार्गदर्शन और अगुवाई करेगा। यह प्रतिज्ञा इस्राएलियों के जंगल में यात्रा के दौरान और बाद में भी पूरी होती रही, जब परमेश्वर ने नबियों, न्यायाधीशों, और राजाओं के माध्यम से उन्हें दिशा दिखाई।


5. कलीसिया की सुरक्षा (मत्ती 16)

यीशु ने प्रतिज्ञा की थी कि वह अपनी कलीसिया की रक्षा करेगा और उसे कायम रखेगा। यह प्रतिज्ञा आज भी पूरी हो रही है, जब हम देखते हैं कि कलीसिया सदियों से बढ़ती और फलती-फूलती रही है, चाहे उसे कितनी भी चुनौतियों का सामना करना पड़ा हो।

6. पवित्रात्मा को भेजने की प्रतिज्ञा

यीशु ने अपने शिष्यों से वादा किया था कि वह उनके पास पवित्रात्मा भेजेगा, जो उन्हें मार्गदर्शन, शक्ति और साहस प्रदान करेगा। यह प्रतिज्ञा पेंटेकोस्ट के दिन पूरी हुई, जब पवित्रात्मा शिष्यों पर उतरा और उन्होंने पूरी दुनिया में सुसमाचार का प्रचार करना शुरू किया।


7. सुसमाचार प्रत्येक जाति में सुनाए जाने की प्रतिज्ञा (मरकुस 14:9; लूका 24:46)

यीशु ने कहा था कि सुसमाचार प्रत्येक जाति में सुनाया जाएगा। यह प्रतिज्ञा मिशनरियों, प्रचारकों, और आज की आधुनिक तकनीक के माध्यम से पूरी हो रही है, जिससे सुसमाचार दुनिया के हर कोने में पहुँच रहा है।

निष्कर्ष

इन बाइबल के वचनों और कहानियों से यह स्पष्ट होता है कि परमेश्वर ने जो भी प्रतिज्ञा की है, उसे पूरा किया है। उसकी प्रतिज्ञाएँ केवल वचन नहीं हैं, बल्कि वे हमारे विश्वास को मजबूत करने और हमें यह आश्वासन देने के लिए हैं कि परमेश्वर हमेशा हमारे साथ है और वह अपने वचनों का पालन करता है। हमें भी अपने जीवन में विश्वास और धैर्य के साथ उसकी प्रतिज्ञाओं पर भरोसा करना चाहिए, यह जानते हुए कि परमेश्वर की हर प्रतिज्ञा सच्ची और अटल है।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें